Connect with us

Top News

Mulayam firefights, meets Akhilesh and Shivpal

Published

on

 
Lucknow, Sep 16 : Samajwadi Party chief Mulayam Singh Yadav on Friday met Uttar Pradesh Chief Minister Akhilesh Yadav and his own brother Shivpal Singh Yadav in a desperate attempt to restore truce in the family-owned party. Addressing party workers here after meeting the two warring leaders separately, Mulayam Singh also said the Samajwadi Party would never split till he was around. Having already rejected Shivpal Yadav’s resignation as the state party chief, Mulayam Singh added that Akhilesh Yadav would call on Shivpal, the Chief Minister’s uncle.

The Yadav patriarch, a former Chief Minister of Uttar Pradesh and a former Indian Defence Minister, ruled out any major differences between Shivpal Yadav, Ram Gopal Yadav and Akhilesh Yadav. But Mulayam Singh’s comments notwithstanding, it was clear that the cracks within the Samajwadi Party remained intact. As Shivpal Yadav’s supporters shouted slogans against Akhilesh Yadav, the Chief Minister indicated that Shivpal Yadav would get back all his cabinet posts. Shivpal Yadav on Friday earlier told his supporters that he would always stand by Mulayam Singh but made no mention of Akhilesh Yadav and asked the gathering not to do anything that hurts the party’s image. “Hum sab Netaji ke saath hain (We are all with Mulayam),” he said. Shivpal was flanked by sacked Mining Minister Gayatri Prajapati and son Aditya Yadav, who has resigned as Pradesh Cooperative Federation chairman in solidarity with his father. The war within the Samajwadi Party erupted on Tuesday when Akhilesh Yadav ousted the Uttar Pradesh Chief Secretary, a Shivpal Yadav protege, after earlier showing the door to Prajapati. Mulayam Singh Yadav then replaced Akhilesh Yadav as the state party chief with Shivpal Yadav. Hours later, a furious Chief Minister took away key portfolios held by Shivpal Yadav, igniting an unprecedented crisis in the Samajwadi Party. A worried Mulayam Singh — who for years has run the party like a personal fiefdom — was engaged in thrashing out an amicable solution to the biggest crisis of his personal life and political career, colleagues said. Hundreds of Shivpal Yadav supporters massed outside his residence raised anti-Akhilesh slogans demanding that all the departments be restored to their leader.

They accused Akhilesh Yadav of humiliating Shivpal Yadav, and insisted that the Chief Minister should apologize to his uncle by touching his feet and seeking forgiveness. Many wept openly after coming to know that Shivpal Yadav had resigned from the cabinet. More than two dozen Samajwadi Party legislators met Shivpal Yadav on Friday. Uttar Pradesh assembly Speaker Mata Prasad Pandey also drove up to Shivpal Yadav’s house. Mulayam Singh, however, rejected the resignation of Shivpal Yadav as the state party chief. Informed sources told that at a 15-minute one-on-one meeting at Mulayam Singh’s residence, Maulayam Singh tore up the resignation letter of Shivpal Yadav. Some Shivpal Yadav supporters, wearing T-shirts with images of Shivpal, also demanded action against party General Secretary Ram Gopal Yadav, who on Thursday termed Rajya Sabha member Amar Singh as the villain in the entire sordid episode. On his part, Akhilesh Yadav has rejected Shivpal Yadav’s resignation from the cabinet as PWD Minister. There was a brief meeting between the two on Thursday night at which both apparently remained daggers drawn. An hour later, Shivpal Yadav, his wife Sarla and son Aditya Yadav faxed their resignations to Akhilesh Yadav and Mulayam Singh Yadav. Aditya is an elected chairman of the Uttar Pradesh Cooperative Federation while Sarla Yadav is chairperson of the Etawah Cooperative Federation.

Continue Reading
Advertisement
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Punjab

कैप्‍टन अमरिंदर सिंह ने CM पद से दिया इस्‍तीफा, कहा- मेरा अपमान किया गया

Published

on

चंडीगढ़ 18 सितंबर (live24india) : पंजाब कांग्रेस में जारी कलह के बीच आज पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने शनिवार को इस्तीफा दे दिया। कैप्टन ने पंजाब के राज्यपाल बनवारी लाल पुरोहित को इस्तीफा सौंप दिया है। इस्तीफे से पहले ही कैप्टन के बेटे रणइंद्र ने कहा था कि उनके पिता नई शुरुआत करेंगे। कैप्टन अमरिंदर सिंह ने अपराह्न साढ़े चार बजे पंजाब राजभवन जाकर राज्यपाल बनवारी लाल पुराेहित को मंत्रिपरिषद का इस्तीफा सौंपा।

चंडीगढ़ में राजभवन से बाहर निकल कर उन्होंने कहा, “मैंने आज सुबह कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी को कह दिया था कि मैं इस्तीफा दे रहा हूं। पिछले दो महीने में मुझे जिस तरह बार-बार तलब किया गया, वह मेरे लिए अपमानजनक था।” उन्होंने कहा कि वह अपने भविष्य की राजनीति का फैसला अपने समर्थकों के साथ विचार-विमर्श करके जल्द ही करेंगे। मुख्यमंत्री ने कहा, “ भविष्य की मेरी राजनीति क्या होगी, यह मैं अपने साथियाें से विचार-विमर्श करके करूंगा।” उन्होंने कहा, “ मैं अपने विकल्पों का उपयोग करूंगा।”

यह पूछे जाने पर कि क्या अब वह भारतीय जनता पार्टी में जा सकते हैं, उन्होंने कहा, “ आप कुछ भी कहते रहें, मैं कांग्रेस में हूं, 52 वर्षों की मेरी राजनीति है, मैं साढ़े नौ साल मुख्यमंत्री रहा हूं, अपने समर्थकों के साथ विचार-विमर्श करके आगे का फैसला करूंगा।” कैप्टन अमरिंदर सिंह ने कहा, “ जिस तरह पिछले दो महीने में मुझे तीन बार बुलाया गया, जिससे मुझे लगा कि मेरे ऊपर शक किया जा रहा है, यह मेरे लिए अपमानजनक था।”

उल्लेखनीय है कि कैप्टन का पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष नवजोत सिद्धू के साथ छत्तीस का आंकड़ा है और इसको लेकर वह आहत थे। कैप्टन सिंह ने कहा कि उन्होंने सुबह ही पार्टी अध्यक्ष सोनिया गांधी से बात की थी और उन्हाेंने उन्हें बता दिया था कि वह पद से इस्तीफा देने जा रहे हैं। उन्होंने स्पष्ट किया कि वह केवल मुख्यमंत्री पद से इस्तीफा दे रहे हैं लेकिन कांग्रेस में बने रहेंगे। उन्होंने कहा कि गत दो माह में तीसरी बार विधायक दल की बैठक हो रही है।

दो बार यह दिल्ली में और अब चंडीगढ़ में बुलाई गई है। इससे यह स्पष्ट होता है कि पार्टी हाईकमान को उनकी कार्यक्षमता पर संदेह है। उन्होंने कहा कि वह इस घटनाक्रम से वह अपमानित हुये हैं। अब यह हाईकमान पर निर्भर है कि वह जिसे चाहे मुख्यमंत्री बनाए। उन्होंने कहा कि वह पार्टी हाईकमान के उनके पद से हटाने से फैसले को स्वीकार करते हैं। भावी रणनीति को लेकर उन्होंने कहा कि वह कांग्रेस में ही रहेंगे तथा उनके साथ लम्बे अर्से से रहे समर्थक विधायकों, नेताओं और कार्यकर्ताओं के साथ बातचीत के बाद ही इस बारे में फैसला लेंगे।

इधर, अमरिंदर और उनके अनेक मंत्रियों के इस्तीफा देने के बाद अब पार्टी विधायक दल की बैठक में नए नेता के चुनाव को लेकर चर्चा होगी। बताया जाता है कि पार्टी विधायक दल की बैठक में इसके नये नेता के चयन काे लेकर फैसला हाईकमान पर छोड़ने का प्रस्ताव भी पारित किया जा सकता है।

Continue Reading

Punjab

कैप्टन अमरिंदर सिंह ने कहा– ‘आज क्लेश खत्म न हुआ तो मैं इस्तीफा दे पार्टी छोड़ दूंगा

Published

on

चंडीगढ़, 18 सितंबर (live24india) : पंजाब के सियासी हलके से बड़ी खबर आ रही है। सूत्र बता रहे हैं कि मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने कमलनाथ को फोन किया है। कमलनाथ को फोन कर के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने कहा कि आज यह क्लेश खत्म करवाओ, नहीं तो वे खुद मुख्यमंत्री पद से इस्तीफा दे देंगे।

उधर, पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह से कांग्रेस हाईकमान द्वारा इस्तीफा मांगने की खबर पर कांग्रेस के राष्ट्रीय महासचिव अजय माकन ने बड़ा बयान दिया है। उन्होंने कहा कि कांग्रेस में सबकुछ ठीक है। अजय माकन ने कहा कि वे हरीश चौधरी के साथ पंजाब पहुंच रहे हैं।

उधर, इस्तीफे की खबर को लेकर मुख्यमंत्री कार्यालय ने खंडन किया है। सीएमओ की तरफ से जारी बयान में कहा गया है कि कैप्टन अमरिंदर सिंह से किसी ने इस्तीफा नहीं मांगा है। ये सब कुछ लोगों द्वारा फैलाया गया झूठ है।

आपको बता दें कि पंजाब कांग्रेस के प्रभारी हरीश रावत ने आज शाम कांग्रेस विधायकों की बैठक बुलाई है। कहा जा रहा है कि इस बैठक में कैप्टन अमरिंदर सिंह के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव लाया जा सकता है। फिलहाल कांग्रेस की सियासत पूरी गरम है।

Continue Reading

India

कृषि कानूनों के खिलाफ शिरोमणि अकाली दल ने दिल्ली में किया प्रदर्शन मार्च

Published

on

नई दिल्ली, 17 सितंबर (महिंद्र पटियाल) : केंद्र सरकार के कृषि कानूनों के विरोध में शिरोमणि अकाली दल के सदस्य आज नई दिल्ली में विरोध मार्च निकाला. शिअद ने पार्टी अध्यक्ष सुखबीर सिंह बादल की अगुवाई में केंद्र सरकार के ‘किसान विरोधी’ कानूनों के खिलाफ गुरुद्वारे से संसद भवन तक मार्च निकालने का आह्वान किया था. प्रदर्शन के दौरान दिल्ली पुलिस ने शिरोमणि अकाली दल के नेताओं को हिरासत में लिया. अब उन्हें संसद मार्ग पुलिस स्टेशन ले जाया जा रहा है.

शिरोमणि अकाली दल के 11 लोगों को हिरासत में लिया गया है. जिसमें सुखबीर सिंह बादल और हरसिमरत कौर भी शामिल हैं. दिल्ली में शिरोमणि अकाली दल के अध्यक्ष सुखबीर सिंह बादल ने कहा, ‘हम यहां पीएम मोदी को संदेश देने आए हैं कि पूरा पंजाब नहीं बल्कि पूरा देश उनकी सरकार के खिलाफ है.’

वहीं हरसिमरत कौर बादल ने अपने संबोधन में केंद्र पर आरोप लगाते हुए कहा, ‘सबका साथ, सबका विकास का वादा किया था लेकिन इस सरकार ने पूरे देश के किसानों के साथ विश्वासघात किया है. आजादी के बाद पंजाबी और किसानों ने देश के हित के लिए काम किया है. किसान बॉर्डर पर बैठे हैं, कितने किसान शहीद हो गए हैं लेकिन इनके कानों पर जूं तक नहीं रेंगती है. मैं अपने नौजवानों का शुक्रिया करती हूं जो यहां इक्कठे हुए हैं और इतना जोश दिखाया है. मैं शीश नमन करती हूं आपके जज्बे को जो यहां डटकर बैठे हैं. लड़ाई जारी है , डेट रहेंगे, डेट रहेंगे!’

हम कृषि कानूनों के वापस होने तक लड़ाई जारी रखेंगे

कृषि कानूनों के खिलाफ शिरोमणि अकाली दल के प्रदर्शन मार्च में पार्टी की नेता और पूर्व केंद्रीय मंत्री हरसिमरत कौर बादल भी पहुंची हैं। उन्होंने यहां प्रदर्शनकारियों को संबोधित करते हुए कहा, कई किसानों ने अपनी जान गंवा दी और सैकड़ों अब भी दिल्ली के बॉर्डर पर बैठे हैं लेकिन इस सरकार को कोई फर्क नहीं पड़ता। हम अपनी लड़ाई तब तक जारी रखेंगे जब तक तीन कृषि कानून वापस नहीं हो जाते।

Continue Reading

Trending Live

Advertisement

Latest Post

Big News

Advertisement

Sports

Sports5 days ago

Virat Kohli देंगे इस्तीफा! Rohit हो सकते हैं भारतीय टीम के नए कप्तान

नई दिल्ली 13 सितंबर (live24india) : भारतीय क्रिकेट टीम के अंदर सफेद बॉल क्रिकेट के लिए आने वाले समय में...

Cricket1 week ago

IND-ENG के बीच 5वां टेस्ट मैच रद्द, सीरीज में भारत 2-1 से आगे

मैनचेस्टर, 10 सितंबर (live24india): भारत और इंग्लैंड के बीच मैनचेस्टर में होने वाला 5 मैचों की टेस्ट सीरीज का आखिरी...

Sports3 weeks ago

Tokyo Paralympics: भाविना ने रचा इतिहास, टेबल टेनिस में गोल्ड जीतने से एक कदम दूर

नई दिल्ली, 28 अगस्त (live24india): भारत की पैरा टेबल टेनिस खिलाड़ी भाविना पटेल ने टोक्यो पैरालंपिक में इतिहास रच दिया।...

Hockey1 month ago

खेल मंत्री राणा सोढ़ी ने की घोषणा, पंजाब के खिलाड़ियों को मिलेगा 1 करोड़ रुपए का पुरस्कार

चंडीगढ़, 5 अगस्त (live24india) : पंजाब सरकार ने गुरुवार को घोषणा की कि वे टोक्यो ओलंपिक खेलों में कांस्य पदक...

Hockey2 months ago

Hockey टीम ने रचा इतिहास, ग्रेट ब्रिटेन को हराकर ओलंपिक सेमीफाइनल में बनाई जगह

टोक्यो, 1 अगस्त (live24india): भारत ने ग्रेट ब्रिटेन को सेमीफाइनल में रविवार को 3-1 से पराजित कर 41 वर्षों के...

Advertisement

Entertainment

Bollywood1 day ago

आमिर खान व करीना कपूर अभिनीत ‘लाल सिंह चड्ढा’ की शूटिंग हुई पूरी!

मुंबई, 17 सितंबर (live24india) : अकैडमी पुरस्कार विजेता फॉरेस्ट गंप का आधिकारिक हिंदी रूपांतरण इस साल क्रिसमस पर रिलीज के...

Bollywood1 day ago

ZEE 5 ओरिजिनल ‘ब्रेक पॉइंट’ का बहुप्रतीक्षित ट्रेलर हुआ रिलीज़!

मुंबई, 17सितंबर (live24india) : भारत का सबसे बड़ा घरेलू वीडियो स्ट्रीमिंग प्लेटफॉर्म ज़ी5 दर्शकों को ‘ब्रेक पॉइंट’ में ली-हेश की...

Bollywood1 day ago

रकुल ने ‘डॉक्टर जी’ के लिए मेडिकल क्लास में लिया था एडमिशन; पहला लुक हुआ रिलीज़!

मुंबई, 17सितंबर (live24india) : रकुल प्रीत सिंह पहली बार आयुष्मान खुराना के साथ जंगली पिक्चर्स के कैंपस कॉमेडी ड्रामा ‘डॉक्टर...

Bollywood2 days ago

सिद्धांत, अनन्या पांडे व आदर्श ‘खो गए हम कहां’ में नजर आएंगे

मुंबई , 16 सितंबर (live24india) : युवा, ताजा और प्रासंगिक, ‘खो गए हम कहां’ मुंबई शहर में तीन दोस्तों की ‘डिजिटल’...

Entertainment3 days ago

Amazon Prime Video ने तमिल फिल्म (रारा) ‘रामे आंडलुम रावने आंडलुम’ का ट्रेलर किया रिलीज़!

मुंबई , 15 सितंबर(live24india) :  2डी एंटरटेनमेंट के साथ चार फिल्मों के लिए एक ऐतिहासिक सहयोग की अपनी हालिया घोषणा के...

Trending